Shopping cart
₹0.00
Sale!

Willmar Schwabe India Thuja Occidentalis Q (30ml)

110.00

मस्से, ऊतकों का अतिवृद्धि, कड़ी जोड़ों, त्वचा पर भूरे रंग के धब्बे।
Warts, overgrowth of tissues, Stiff Joints, Brown spots on skin.

Description

Willmar Schwabe India Thuja Occidentalis 1X (Q) a

Medicine Name : Thuja Occidentalis Q
Company Name : Willmar Schwabe India
Ingredients Base : Homeopathic
Form : Liquid
Presentation : 30 ML
Potency : 1x (Q ) (Mother Tincture)

थूजा आक्सिडेण्टैलिस Thuja Occidentalis

Common Name: Arbor Vitae 
सामान्य नाम: आर्बर विटेट

About :
Thuja oxidantis medicine cures diseases by eliminating symptoms of various diseases. The action of this drug is especially on skin diseases, gastrointestinal tract, kidney and brain. This medicine cures boils, pimples and warts like pimples, etc. caused by the disease. This drug should be taken in case of clotting of mucus due to cold. In the case of bleeding, fungicide is used in fungicides (fungus growths) and excessive swelling of jutches and veins etc. In addition to the skin, the action of Thuja occidentalis is particularly on the genitals. By using this drug, such distorted spots of the genitals are produced as it happens at the time of bloodshed. This medicine cures mucous and warts like arbores, which are caused by enlargement of the warts like mucus and skin.
In the medicine Thuja oxidantis, there are symptoms of bacteria destroying the bacteria and gobies vaccine. Hence the suppressed state of gonorrhea, inflammation of the ovaries. Diseases caused by vaccination. Pain in the muscles and joints due to the disease, and symptoms in which the disease increases in rest, in dry weather, in moist weather and in wet environment. Thuja oxidantis drug is used in such symptoms.
Lameness and the nature of the body in which blood is unnaturally highly watery. Therefore, they get very much pain from wet air and water. Use of Thuja oxidantis is beneficial in conditions of severe tiredness and cold. This medicine is used to cure smallpox and pimples quickly, to prevent cystitis, to get rid of hard skin diseases like vaccinated tuberculosis and pain of the muscles etc.

थूजा आक्सिडेण्टैलिस औषधि विभिन्न रोग के लक्षणों को समाप्त करके रोगों को ठीक करती है। इस औषधि की क्रिया विशेष रूप से त्वचा रोग, जठरान्त्रपथ, गुर्दे और मस्तिष्क पर होती है। यह औषधि रोग के कारण उत्पन्न फोड़े-फुंसी, मांसाकुंरों तथा मस्सों जैसे फुंसियों आदि को ठीक करती है। ठण्ड लगने के कारण बलगम के थक्के बनने पर रोगी को यह औषधि लेनी चाहिए। खून निकलने पर कवकगुल्म (फंगस ग्रोव्थस) तथा जतूक व शिराओं के अत्यधिक सूजन आदि में थूजा आक्सिडेण्टैलिस औषधि का प्रयोग किया जाता है। थूजा आक्सिडेण्टैलिस औषधि की क्रिया त्वचा के अतिरिक्त जननेन्द्रिय पर भी विशेष रूप से होती है। इस औषधि के प्रयोग से जननेन्द्रिय के ऐसे विकृत दशायें उत्पन्न होती है जैसे रक्तदूषित होने के समय होती है। यह औषधि श्लैष्मा तथा त्वचा की परतों पर मस्से जैसे विवर्द्धनों को उत्पन्न हुए गुलर जैसे मस्से और अर्बूदों आदि को ठीक करती है।
थूजा आक्सिडेण्टैलिस औषधि में प्रमेह और गोबीज टीका के जीवाणुओं को नष्ट करने वाले लक्षण पाए जाते हैं। इसलिए सूजाक की दबी हुई अवस्था, डिम्बवाहिनियों की सूजन। टीका लगाने के कारण उत्पन्न रोग। प्रमेह-दोष के कारण पेशियों और संधियों में होने वाला दर्द तथा ऐसे लक्षण जिसमें आराम करने पर, सूखे मौसम में, नमी वाले मौसम तथा तर वातावरण में रोग बढ़ता है। ऐसे लक्षणों में थूजा आक्सिडेण्टैलिस औषधि का प्रयोग किया जाता है।
लंगड़ापन तथा शरीर की ऐसी प्रकृति जिसमें रक्त अस्वाभाविक रूप से अत्यधिक जलयुक्त होता है। अत: भीगी हवा और पानी से उन्हें अत्यधिक कष्ट होता है। तेज थकावट और शीतप्रधान आदि स्थितियों में थूजा आक्सिडेण्टैलिस औषधि का प्रयोग लाभकारी होता है। चेचक व फुंसियों को जल्दी ठीक करने के लिए, पूतिज्वर को रोकने के लिए, टीकाजनित धातुदोश जैसे कठिन त्वचा रोग तथा स्नायु का दर्द आदि को दूर करने के लिए इस औषधि का प्रयोग किया जाता है।

Dosage :
Take 10 drops in half cup of water three times a day.
आधा कप पानी में 10 बूंद दिन में तीन बार लें।

Additional information

Weight 75 g
Dimensions 3 × 3 × 9.5 cm

Reviews

There are no reviews yet.

Only logged in customers who have purchased this product may leave a review.

%d bloggers like this: