Shopping cart
₹0.00
Sale!

Willmar Schwabe India Pareira Brava 200 CH (30ml)

100.00

मूत्र त्यागने की क्रिया, वृक्क शूल, दर्दनाक और जलन पेशाब, प्रोस्टेट के लिए।
For dribbling urine, renal colic, painful & burning urination,prostate.

Description

Wsi Pareira Brava 200 Ch

Medicine Name : Pareira Brava 200 Ch
Company Name : Willmar Schwabe India
Ingredients Base : Homeopathic
Form : Drops
Presentation : 30 ML
Potency : 200 Ch (Dilution)

पेराइरा ब्रोवा (Pareira Brava)

Symptoms of medicine:
The effect of the drug Peraira Brova is more on the urinary tract. This drug is used to cure pain in the kidneys, diseases related to the prostate, and diseases related to the bladder. Peraira Brova in various symptoms.

औषधि के लक्षण:
पेराइरा ब्रोवा औषधि का असर मूत्रयंत्र के ऊपर अधिक होता है। गुर्दे में दर्द, पुर:स्थग्रन्थि से सम्बन्धित रोग और मूत्राशय से सम्बन्धित रोग को ठीक करने के लिए इस औषधि का उपयोग किया जाता है। विभिन्न लक्षणों में पेराइरा ब्रोवा

Medicine Use:
औषधि का उपयोग :

Symptoms related to urine:
* The patient’s urine comes thick, phlegmatic and mixed with blood.
मूत्र से सम्बन्धित लक्षण :
* रोगी का पेशाब गाढ़ा, कफ युक्त और खून मिला हुआ आता है।

  • It takes more force to urinate and pain while urinating has a downward movement through the thighs.
  • पेशाब करने के लिए अधिक जोर लगाना पड़ता है और पेशाब करते समय दर्द का असर जांघों में होकर नीचे की ओर होता है।

  • Sitting on the knees, the head is able to urinate only after pressing it firmly on the floor.

  • घुटनों के बल बैठकर सिर को फर्श पर जोर से दबाने पर ही मूत्रत्याग हो पाता है।

  • The bladder swells and there is pain in the nerves of the front of the thighs, urine keeps dripping after urination.

  • मूत्राशय फूल जाता है और जांघों के अगले भाग की नाड़ियों में दर्द होता है, मूत्रत्याग करने के बाद पेशाब टपकता रहता है।

  • There is severe pain in the areca nut of the penis and itching on the penis, there is a burning sensation in the urethra and with this, it becomes a disease related to the prostate.

  • लिंग की सुपारी में तेज दर्द होता है तथा लिंग पर खुजली होती है, मूत्रमार्ग में जलन होती है तथा इसके साथ ही पुर:स्थग्रन्थि से सम्बन्धित रोग हो जाता है।

  • There is a burning sensation in the urethra and also there is pain.

  • मूत्रमार्ग में जलन होती है और इसके साथ ही दर्द भी होता है।

  • If a person has any of the symptoms related to this type of urine, then Peraira Brava drug should be used to cure the symptoms of his disease, as a result of which such symptoms are cured.

  • इस प्रकार के मूत्र से सम्बन्धित लक्षणों में से यदि कोई भी लक्षण किसी व्यक्ति को हो गया है तो उसके रोग के लक्षणों को ठीक करने के लिए पेराइरा ब्रोवा औषधि का प्रयोग करना चाहिए जिसके फलस्वरूप इस प्रकार के लक्षण ठीक हो जाते हैं।

Relationship:
* Kidney stones, dreaming of sorrow, the patient dreams as if he is burying himself in the ground. To treat a patient suffering from such symptoms, use the drug Parietaria. To cure the disease of the patient suffering from similar symptoms, the drug Peraira Brova can be used. Therefore, some properties of parasitaria can be compared with the drug Peraira Brava.

सम्बन्ध (रिलेशन) :
* गुर्दे में पथरी होना, दु:ख के सपने देखना, रोगी ऐसे सपने देखता है जैसे कि वह अपने आप को जिन्दा ही जमीन में गाड़ रहा हो। इस प्रकार के लक्षणों से पीड़ित रोगी का उपचार करने के लिए पैरिएटैरिया औषधि का प्रयोग करते हैं। ऐसी ही लक्षणों से पीड़ित रोगी के रोग को ठीक करने के लिए पेराइरा ब्रोवा औषधि का उपयोग कर सकते हैं। अत: पैरिएटैरिया औषधि के कुछ गुणों की तुलना पेराइरा ब्रोवा औषधि से कर सकते हैं।

  • There is a feeling of obstruction in urination and in addition there is burning sensation in the pistil, pain in the lower part of the navel while sitting. To cure these types of symptoms, Chimaphila is used. To cure such symptoms, use the drug Peraira Brava. Therefore, some properties of Chimaphila can be compared with the drug Paraira Brava.
  • पेशाब करने में रुकावट महसूस हो रही हो तथा इसके साथ ही पु:रस्थग्रन्थि में जलन होता है, बैठते समय नाभि के नीचे के भाग में दर्द होता है। इस प्रकार के लक्षणों को ठीक करने के लिए चिमाफिला औषधि का प्रयोग करते हैं। ऐसे ही लक्षणों को ठीक करने के लिए पेराइरा ब्रोवा औषधि का उपयोग करते हैं। अत: चिमाफिला औषधि के कुछ गुणों की तुलना पेराइरा ब्रोवा औषधि से कर सकते हैं।

  • Difficulty in urination, wound on the penis, stone disease. To cure this type of diseases, the medicine Fabiana-Pichi is used. For the treatment of such diseases, the drug Peraira Brova is also used. Therefore, some properties of the drug Fabiana-Pitchi can be compared with the drug Pereira Brava.

  • पेशाब करने में कष्ट होना, लिंग पर घाव होना, पथरी रोग होना। इस प्रकार के रोगों को ठीक करने के लिए फैबियाना-पिची औषधि का उपयोग करते हैं। ऐसे ही रोगों को ठीक करने के लिए पेराइरा ब्रोवा औषधि का भी प्रयोग करते हैं। अत: फैबियाना-पिची औषधि के कुछ गुणों की तुलना पेराइरा ब्रोवा औषधि से कर सकते हैं।

  • Some properties of Hidyoma, Ocimum, Berbe, Hydrazie and Uva drugs can be compared with the drug Paraira Brava.

  • हिडियोमा, ओसीमम, बर्बे, हाइड्रैजि तथा यूवा औषधियों के कुछ गुणों की तुलना पेराइरा ब्रोवा औषधि से कर सकते हैं।

Side effects of Pareira Brava  
साइड इफेक्ट
There are no such side effects. But every medicine should be taken following the rules as given. 
ऐसे कोई साइड इफेक्ट नहीं हैं। लेकिन हर दवा को दिए गए नियमों का पालन करना चाहिए।

It is safe to take the medicine even if you are on other mode of medication like allopathy medicines, ayurvedic etc. 
यदि आप किसी अन्य चिकित्सा पद्धति जैसे एलोपैथी दवाओं, आयुर्वेदिक आदि पर हैं तो भी दवा लेना सुरक्षित है।

Homeopathic medicines never interfere with the action of other medicines.
होम्योपैथिक दवाएं कभी भी अन्य दवाओं की कार्रवाई में हस्तक्षेप नहीं करती हैं।

Dosage and rules while taking Pareira Brava
परेरा ब्रावा लेते समय खुराक और नियम।

Take 5 drops in half cup of water three times a day.
आधा कप पानी में 5 बूंद दिन में तीन बार लें।

How to take medicine :
1 : Take homeopathic medicine 30-40 minutes before meals or 30-40 after meals.
होम्योपैथिक दवा भोजन से 30-40 मिनट पहले या भोजन के 30-40 मिनट बाद लें।

2 : After taking a homeopathic medicine, keep a gap of 5 to 10 minutes in the second medicine.

होम्योपैथिक दवा लेने के बाद दूसरी दवा में 5 से 10 मिनट का अंतर रखें।

Terms and conditions:
Homeopathic products should be used on the basis of symptoms.
For best results of homeopathic medicine the drug should be used according to the consultation of a doctor.
लक्षणों के आधार पर होम्योपैथिक उत्पादों का उपयोग किया जाना चाहिए।
होम्योपैथिक दवा के सर्वोत्तम परिणामों के लिए दवा का उपयोग डॉक्टर के परामर्श के अनुसार किया जाना चाहिए।

Reviews

There are no reviews yet.

Only logged in customers who have purchased this product may leave a review.

%d bloggers like this: