Shopping cart
₹0.00
Sale!

Embelia Ribes 200CH (30ml)

In stock

It is considered especially beneficial in clearing the worms in the stomach of children and in curing diseases like diarrhoea, flatulence and flatulence due to worms in the stomach etc.

100.00

Description

Willmar Schwabe India Embelia Ribes 200

CH (30ml)
Improves appetite, for worms, pain in abdomen, dry
cough

इम्बेलिया राइबेस EMBELIA RIBES
परिचय-
इम्बेलिया राइबेस औषधि का प्रयोग बच्चों में उत्पन्न विभिन्न रोगों को दूर करने तथा पेट के कीड़ों को साफ करने के लिए किया जाता है। इस औषधि का प्रयोग दस्त, मन्दाग्नि तथा पेट में कीड़े होने के कारण पेट का फूल जाना आदि रोग को दूर करने में विशेष रूप से लाभकारी माना गया है।

Introduction-
Embelia Ribes medicine is used to cure various diseases occurring in children and to clean the stomach worms. The use of this medicine is considered especially beneficial in curing diseases like diarrhoea, dysentery and flatulence due to worms in the stomach etc.

शरीर के विभिन्न अंगों में उत्पन्न लक्षणों के आधार पर इम्बेलिया राइबेस औषधि का उपयोग-

मन से संबन्धित लक्षण :- मानसिक रूप से रोग ग्रस्त होने पर रोगी का स्वभाव बदलने लगता है। रोगी के स्वभाव में चिड़चिड़ापन आ जाता है, रोगी अकेला रहने से डर लगता है तथा रोगी में फूहड़ व बेचैनी आदि मानसिक लक्षण उत्पन्न होने लगते हैं। ऐसे लक्षणों से ग्रस्त रोगी को ठीक करने के लिए इम्बेलिया राइबेस औषधि का प्रयोग करना चाहिए। यह औषधि विष आदि से उत्पन्न होने वाले मानसिक पागलपन को भी दूर करने में लाभकरी होता है।

नाक से संबन्धित लक्षण :- नाक में खुजली होना तथा नाक को हमेशा कुरेदते रहना आदि लक्षणों में इम्बेलिया राइबेस औषधि का प्रयोग करने से लाभ होता है।

मुंह से संबन्धित लक्षण :-जीभ का सूख जाना तथा दांत चबाने की आदत पड़ने पर इम्बेलिया राइबेस औषधि का प्रयोग करना चाहिए। इस औषधि के सेवन से रोगी में उत्पन्न ऐसे लक्षण समाप्त हो जाते हैं।

आमाशय से संबन्धित लक्षण :- पेट का फुलना, दस्त, मन्दाग्नि, तेज मिचली तथा खाना खाने के तुरन्त बाद ही पुन: भूख लग जाना आदि आमाशय से संबन्धित लक्षणों में इम्बेलिया राइबेस औषधि का प्रयोग किया जाता है।
मलाशय से संबन्धित लक्षण :- मलाशय में खुजली होने के साथ दस्त के रूप में अपचा भोजन व दस्त के साथ कीड़े आने पर इम्बेलिया राइबेस औषधि का प्रयोग करें।
मूत्र से संबन्धित लक्षण :- पेशाब में जलन के साथ खून आने पर इम्बेलिया राइबेस औषधि का प्रयोग करना लाभकारी होता है।

नींद से संबन्धित लक्षण :- रात को ठीक से नींद न आती हो तथा रात को सोने पर डरावने सपने आते हो जिसके कारण रोगी अचानक जाग उठता है। इस तरह बार-बार नींद टूटने के कारण उत्पन्न परेशानी में रोगी को इम्बेलिया राइबेस औषधि का प्रयोग करना चाहिए।
बुखार से संबन्धित लक्षण :- रोगी में उत्पन्न ऐसा बुखार जिसमें बुखार सुबह के समय शुरू होता है तथा बुखार 101 से 103 फारेनहाइट तक पहुंच जाता है। इस तरह के बुखार उत्पन्न होने पर रोगी को इम्बेलिया राइबेस औषधि देनी चाहिए।

Dosage and rules when taking Embelia Ribes

Take 5 drops in half cup of water three times a day.

We recommend you to take it under the guidance of physicians.

इम्बेलिया राइबेस लेते समय खुराक और नियम

आधा कप पानी में 5 बूँदें दिन में तीन बार लें।

हम आपको चिकित्सकों के मार्गदर्शन में लेने की सलाह देते हैं।

Reviews

There are no reviews yet.

Only logged in customers who have purchased this product may leave a review.

%d